श्रावणी मेला

श्रावण के महीने के दौरान बाबाधाम का महत्व बढ़ता है इस अवधि के दौरान लाखों श्रद्धालु बाबा बैद्यनाथ मंदिर में इकट्ठा होते है। उनमें से ज्यादातर लोग सबसे पहले सुल्तानगंज जाते हैं, जो बाबाधाम से 105 किमी दूर है। सुल्तानगंज में, गंगा उत्तर में बहती है यह इस जगह से है कि भक्तों गंगा जल ले कर बाबा धाम की और पैदल आते है। वे बाबा बैधनाथ मंदिर तक 109 किलोमीटर की दूरी पर चलते हैं,लोग बोल बम बोलते हुए यहाँ तक बहुत ही श्रद्धा के साथ पहुचते है। बाबाधाम तक पहुंचने पर, कावरिया पहले शिवगंगा में खुद को शुद्ध करने के लिए एक डुबकी लेते हैं, और फिर बाबा बैद्यनाथ मंदिर में प्रवेश करते हैं, जहां ज्योतिर्लिंगम पर गंगा जल अर्पित करते है।